Dr. Ashwini Sharma, SANGEETIKA,JAYA PRIYADARSHINI VATS, Paran & Bandish, EXCLUSIVE VIDEO.....

4 Views
Published
प्रिय साथियो.....
" SANGEETIKA " आज पेश करता है लखनऊ घराने के पं शम्भू महाराज के ज्येष्ठ सुपुत्र गुरु पं कृष्ण मोहन मिश्रा जी की परम शिष्या और संस्कृति मंत्रालय तथा ICCR द्वारा अनुमोदिता दिल्ली में रह रहीं एक बेहतरीन कथक नृत्यांगना जया प्रियदर्शिनी वत्स द्वारा एक कथक परन और बंदिश के मुखड़े का नृत्य भाव प्रस्तुतिकरण ! कथक शैली में आमद, ठाठ, तिहाई इत्यादि के साथ साथ परन एवं नृत्य भाव का भी विशेष महत्व होता है जिसमें कलाकार की निजी प्रतिभा का अवलोकन होता है ! इसमें कोई संदेह नहीं कि अपनी बेहतरीन प्रस्तुतियों के साथ - साथ जया इस नृत्य शैली का प्रचार - प्रसार कई शिष्य - शिष्याओं को शिक्षण के माध्यम से भी कर रही हैं !

" SANGEETIKA " का मानना है कि किसी भी कलाकार में नम्रता, आदरभाव, शालीनता, स्नेह, सदभाव, समभाव और सबंधो में मधुरता होना अत्यावश्यक है जो कलाकार को नित्य नई ऊंचाइयां प्राप्ति में सहायक होता है ! "SANGEETIKA " की यही बात स्पष्ट रूप से परिलक्षित होती है जया प्रियदर्शिनी वत्स में !

कृपया हमारे "SANGEETIKA " चैनल को सब्स्क्राइब, लाइक और शेयर करके अपने मित्रों तथा अन्य सुधिजनों को भी इससे जोड़ने का प्रयास करें.....
Category
नृत्य
Be the first to comment